Saturday, 1 August 2020

mouth ulcer treatment in ayurveda in hindi । मुंह में छाले का इलाज


mouth ulcer home remedy ayurveda


mouth ulcer treatment in ayurveda in hindi,mouth ulcer home remedy ayurveda

mouth ulcer treatment in ayurveda in hindi


mouth ulcer treatment in ayurveda in hindi

मुंह में छाले कैसे आते हैं?

मुंह में छाले (Mouth ulcer) होने का कारण क्या है?

मुंह में छाले (muh me chale)होने के कई कारण हो सकते हैं।

1. खट्टे फल

अगर आप खट्टे और रसीले फ्रूट जैसे की टमाटर, नींबू , संतरा और स्ट्रॉबेरी मुंह के छाले का कारण भी हो सकता है। इसके अलावा चॉकलेट भी मुंह के छालों को बढ़ाती है। अगर आपके मुंह में छाले हैं तो इन चीजों का सेवन न करे। आपको जल्दी आराम मिलेगा।

2. कब्ज

अगर आपको पेट का पुराना कब्ज भी मुंह के छाले  (Mouth ulcer)का कारण होता है। जब पेट ठीक से साफ नहीं होता कब्ज है तो हमारे पेट की गर्मी के कारण मुंह में छाले हो जाते हैं। इसलिए इस बात का खास द्ययान रखे की पेट ठीक से साफ हो रहा है या नहीं।

3. धूम्रपान छोड़न

वैसे तो धूम्रपान बहुत बुरी आदत है और इसे  जल्दी छोड़ देना चाहिए लेकिन, कभी-कभी ऐसा भी होता है कि धूम्रपान की लत को छोड़ने पर कुछ लोगों के मुंह में छालों की शिकायत भी  होती है।

यह भी पढ़ें : इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये 

4. तनाव और चिंता

अगर आपको किसी भी चिंता और तनाव भी मुंह के छाले (Mouth ulcer) का कारण बनते हैं इसलिए जो लोग ज्यादा चिंता में रहते हैं उन्हें मुहं के छालों  की दिक्क्त होती है।

5. जीभ या गाल का कट जाना

कही बार ऐसा भी होता है की कुछ खाते समय या बोलते समय जीभ या गाल दांत के बीच से कट जाता है और फिर यह घाव हो जाता है फिर छाले जैसा बन जाता है।

6. विटामिन्स की कमी

अगर आपको विटामिन बी-12, जिंक, फॉलेट और आयरन की कमी होतो उसे भी छाले होते हैं।

7. दवाइयों का सेवन भी हो सकता है मुंह के छाले का कारण

एलोपेथिक ट्रीटमेंट जब ज्यादा समय चलता है तो भी मुंह में छाले होने की संभावना रहती है। एलोपेथिक दवाइयां बहुत गर्म होती हैं जो कि वो हमारे पेट में गर्मी पेेदा करती है जिससे मुहं में छाले हो जा है।

यह भी पढ़ें : brain power kaise badhaye

मुंह में छाले होने पर क्या खाएं?

कई ऐसी चीजें हैं जिनका सेवन से आप मुंह के छाले होने पर कर सकते हैं। नीचे हम बताने जा रहे हैं कि मुंह में छाले होने पर आप क्या खाएं, जिससे आपको राहत महसूस हो।

जानिए मुंह में छाले होने पर आप क्या खा सकते हैं :

मुंह में छाले होने पर आप क्रीम, सूप, चीज, दही, मिल्कशेक, हलवा, आइसक्रीम, तरल प्रोटीन सप्लिमेंट आप खा सकते हैं। ये आपको मुंह के छालों  (Mouth ulcer) में आराम देने में मदद करेंगे।

खाएं हाई प्रोटीन चीजें : इसके अलावा, कैलोरी और हाई प्रोटीन से युक्त नरम मलाईदार खाद्य पदार्थ खाना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। उच्च-कैलोरी खाद्य पदार्थ खाने से आपके शरीर के अंदर पर्याप्त ऊर्जा मिलेगी और छालों के वक्त इन्हें खाने से जलन भी कम होगी और दर्द भी कम होगा। आप एक चम्मच ठंडी क्रीम वेनिला और थोड़ी-सी चीनी मिलाके खाएं।

अपना भोजन खाने से पहले भिगोएं। ठंडे अनाज को दूध में भिगोएं, ताकि जब आप इसे खाएं, तो यह बहुत ही गाढ़ा हो। चावल और पास्ता को सब्जी के रस में भिगोएं, ताकि वे नरम हो जाएं। इसके अलावा, अपने टोस्ट को खाने से पहले अंडे की जर्दी में भिगो दें। इससे आपके मुंह में दर्द कम होगा और गले की खराश से भी कम परेशानी होगी।

अपना भोजन चॉप करें। मांस, मुर्गी या मछली को छोटे टुकड़ों में काटें या ब्लेंडर की मदद से बारीक कर लें। आप इसे सॉस या कम वसा वाले ग्रेवी के साथ मिलाकर खा सकते हैं।

पकी हुई सब्जियां और नरम फल खाएं। कच्चे फलों से आपके मुंह में घाव हो सकते हैं। आप एक ब्लेंडर के माध्यम से फल और सब्जियां भी डालकर उन्हें छोटे टुकड़ों में कट कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : vitamin d deficiency treatment

ठंडे खाद्य पदार्थ जैसे आइसक्रीम, कैंडी खाएं। इनकी ठंडक से मुंह के छालों में राहत प्रदान करती है।

मुंह में छाले (Mouth ulcer) होने पर न खाएं ये चीजें

अगर आपको मुंह में छाले होने की समस्या रहती है, तो आपको कई बातों का ध्यान रखने की जरूरत होती है, जैसे कि आप क्या खाएं और क्या न खाएं। नीचे जानिए कि मुंह में छाले होने पर क्या चीजें नहीं खानी चाहिए। मुंह में छाले हो जाने पर आप इन चीजों के सेवन बचें :

तीखा, अम्लीय, या नमकीन खाद्य पदार्थों से बचें, जैसे गरम मसालों बनी सब्जी, तीखे चिप्स, नमकीन या कोई भी मसालेदार भोजन।

खट्टे और टमाटर वाले खाद्य पदार्थों से दूर रहें। खट्टी चीजें छाले या घाव को बढ़ा सकती हैं।

सूखे टोस्ट और ग्रेनोला जैसे मोटे खाद्य पदार्थों से बचें। इनसे मुंह में जलन हो सकती है।

ऐसे मसालों से बचें, जो मुंह में जलन पैदा कर सकते हैं जैसे कि मिर्च पाउडर, करी और गर्म सॉस।

यह भी पढ़ें : डायबिटीज का घरेलू नुस्खे

खैनी, तंबाकू आदि से भी दूर रहें।

अगर आपको बार-बार मुंह में छालों की समस्या हो रही है, तो इसे नजरअंदाज न करें। डॉक्टर से सलाह ले और दवाओं से आप बहुत जल्दी छालों की समस्या से छुटकाराप सक्ते   हैं। मुंह में छाले हो जाने पर रात में सोने से पहले कुल्ला करें।

ये छोटे-छोटे उपाय से मुंह के छालों से आराम पासकता है। उम्मीद है ये इस पोस्ट में दिए गए ये टिप्स आपके काम आएंगे और आप मुंह में छालों (Mouth ulcer) की समस्या से राहत पा सकेंगे। इस पोस्ट में हमने आपको विस्तार से बताया कि मुंह में छाले होने पर क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए।

आप इस लेख को 'HEALTH TIPS' के माध्यम से पढ़ रहे हैं, हमारे लेख को पढ़ने के लिए धन्यवाद। अगर आपको यह लेख पसंद आया है, तो कृपया इसे अधिक से अधिक लोगों के साथ साझा करें और हमें टिप्पणियों में अपनी प्रतिक्रिया दें

www.healthbyhindi.com

धन्यवाद जी..........

2 comments:

  1. आपकी पोस्ट बहुत ही अच्छी लगी, एवं ऐसी पोस्ट को पब्लिश करना बहुत जरूरी है लोगों के लिए यह बहुत ही हेल्प करेगी। ऐसे लेखक को बहुत-बहुत धन्यवाद Very good information'all india world'jankari purn post this page'bataiye'ऐसी पोस्ट पढ़कर कुछ इनकम भी लोग कर सकते हैं'top job gyanऐसी पोस्टों को पढ़कर के हम वर्क कर सकते हैं'so work'internet per aisi post bahut hi housefull hoti hain'internet in india'

    ReplyDelete